छत्तीसगढ़ जनसंचार के साधन सामान्य ज्ञान : CG Communication GK 2022

छत्तीसगढ़ जनसंचार gk 

छत्तीसगढ़ का सम्पूर्ण सामान्य ज्ञान Cg Question Answer in Hindi: Click Now

A. आकाशवाणी  

छत्तीसगढ़ राज्य में आकाशवाणी केन्द्रों की संख्या 5 है। ये केन्द्र रायपुर, अम्बिकापुर, जगदलपुर, रायगढ़ एवं बिलासपुर में स्थित हैं। राज्य का प्रथम आकाशवाणी केन्द्र रायपुर में 2 अक्टूबर, 1963 को स्थापित किया गया । इसकी क्षमता एस डब्ल्यू 1000 के० डब्ल्यू० एम० डब्ल्यू है। अम्बिकापुर में आकाशवाणी केन्द्र की स्थापना 20 दिसम्बर 1976 को की गई। इसकी क्षमता एम० डब्ल्यू 20 के० डब्ल्यू है।

जगदलपुर आकाशवाणी केन्द्र की स्थापना 22 जनवरी, 1977 को की गई। इसकी क्षमता एम० डब्ल्यू 20 के० डब्ल्यू है। रायपुर में आकाशवाणी का स्थायी स्टुडियो सिविल लाइन में दिसम्बर 1976 में स्थापित हुआ। रायपुर आकाशवाणी केन्द्र का प्रसारण क्षेत्र लगभग 150 वर्ग किलोमीटर है। राज्य का नवीन आकाशवाणी केन्द्र सराईपाली में प्रस्तावित है।

B. दूरदर्शन

केन्द्र सरकार द्वारा संचालित ‘साइट परियोजना’ के अन्तर्गत 1972-73 में रायपुर में दूरदर्शन रिले केन्द्र स्थापित किया गया था। राज्य में 10 टी० वी० ट्रान्समीटर हैं। उच्च शक्ति ट्रांसमीटर (HPT) के तीन केन्द्र रायपुर अम्बिकापुर एवं जगदलपुर में हैं, जबकि निम्न शक्ति ट्रांसमीटर (LPT) के 12 केन्द्र बिलासपुर, कोरबा, सक्ती, पेन्ड्रारोड, पत्थलगांव, सरायपाली, डल्ली राजहरा, रायगढ़, मनेन्द्रगढ़, बैलाडीला, डोंगरगढ़ एवं कांकेर में स्थापित हैं। राज्य में दूरदर्शन के कार्यक्रमों का निर्माण सिर्फ रायपुर में होता है। 1972 से 1975 तक रायपुर दूरदर्शन केन्द्र से केवल शैक्षणिक कार्यक्रमों का प्रसारण होता था। इस केन्द्र से 1986 में स्थानीय प्रसारण प्रारम्भ हुआ।

  1. समाचार-पत्र

छत्तीसगढ़ का प्रथम समाचार पत्र ‘छत्तीसगढ़ मित्र’ था। यह 1900 ई० में पेण्ड्रारोड (बिलासपुर) से एक मासिक समाचार-पत्र के रूप में प्रकाशित हुआ था। इसके सम्पादक एवं प्रकाशक माधवराव सप्रे थे। राज्य का प्रथम दैनिक समाचार पत्र ‘महाकौशल’ है। महाकौशल 1934 ई० में साप्ताहिक के रूप आरम्भ हुआ था, परन्तु यह 1951 में दैनिक पत्र के रूप में प्रकाशित हुआ। 1924 ई० में पंडित रविशंकर शुक्ल ने ‘कान्यकुब्ज’ नामक पत्रिका निकाली थी। 1933 ई० में सुन्दरलाल त्रिपाठी ने ‘उत्थान’ नामक एक मासिक पत्रिका निकाली थी।

1942 ई० में स्वराज्य प्रसाद त्रिवेदी ने ‘अग्रदूत’ साप्ताहिक प्रारम्भ किया जो 1982 ई० तक साप्ताहिक रहा। वर्तमान में यह संध्या दैनिक है। नवभारत का प्रकाशन शिवनारायण द्विवेदी के सम्पादन में 9 अप्रैल, 1959 को प्रारम्भ हुआ। ‘देशबन्धु’ जिसका पुराना नाम ‘नई दुनिया’ है का प्रकाशन 19 अप्रैल, 1959 से प्रारम्भ हुआ। इसके प्रथम सम्पादक मायाराम सुरजन थे। राज्य में दैनिक भास्कर का प्रकाशन 1991 ई० में प्रारम्भ हुआ। ‘अमृत संदेश’ का प्रकाशन 1984 से गोविन्दलाल बोरा के सम्पादकत्व में हुआ। अग्रदूत, तरूण छत्तीसगढ़, हाइवे चैनल रायपुर से प्रकाशित होने वाले प्रमुख सांध्य दैनिक हैं। श्रमबिन्दु एवं भिलाई टाइम्स नामक सांध्य दैनिक भिलाई से प्रकाशित होते हैं।

Leave a Comment